हिमाचल प्रदेश: 14 साल

की चपरासी की बेटी एक दिन के लिए कांगड़ा की एसडीएम बनी

Hina SDMहिना ठाकुर, HPBOSE 10 वीं परिणाम 2020 में 34 वीं रैंक धारक है, हिमाचल प्रदेश के एसडीएम द्वारा एक दिन के लिए एसडीएमकार्यालय संभालने के लिए बुलाया गया था

14 वर्षीय किशोरी हिना ठाकुर ने HPBOSE 10 वीं परिणाम 2020 में 94% अंक प्राप्त किए। हिना को  12 जून, 2020 को अपनेकार्यालय में कांगड़ा के सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट, जतिन लाल द्वारा आमंत्रित किया गया था। हिना को बिल्कुल भी ये  पता नहीं था किएक दिन के लिए एसडीएम कार्यालय सँभालने कैसा होगा।

हिना के पिता कांगड़ा के एसडीएम, जतिन लाल के कार्यालय में एक चपरासी हैं जतिन लाल  2016 बैच के आईएएस अधिकारी हैं।

हिना ने 94% स्कोर करने के बाद, लाल ने उसे अपने कार्यालय में आमंत्रित किया और उसे एक दिन के लिए एसडीएम के रूप में कामकरने के लिए कहा। हिना इस मौके पर बहुत खुश हुई और ये काम स्वीकार कर लिया।……हिना  को सभी आवश्यक मार्गदर्शन प्रदानकरने के लिए  लाल जी उसके  बगल में बैठे रहे

उसने कार्यालय की बैठकें लीं और उपप्रभागीय मजिस्ट्रेट को देखने के लिए आने वाले विज़िटर्ज़ से मुलाकात की। विज़िटर्ज़ ने हिना सेउनकी समस्याओं के बारे में बात की और एसडीएम की मदद से उनके मुद्दों को हल किया।….एसडीएम ने बाद में मीडिया को सूचितकिया कि कैसे उनके चपरासी ने उनकी बेटी को HPBOSE की मेरिट सूची में 34 वीं रैंक प्राप्त करने की सूचना दी थी। उन्होंने हिना कोबुलाने के लिए अपने कार्यालय में बुलाया और यह तब हुआ जब हिना ने उन्हें बताया कि वह कैसे एक आईएएस अधिकारी बनना चाहतीहै। इसके बाद, एसडीएम ने उसे एक दिन के लिए अपने कार्यालय को संभालने देने का फैसला किया।आज हिना डीएम है और साराकाम देख रही है”, जतिन लाल ने कहा।

अधिकारी ने स्पष्ट किया कि वह सिर्फ इस कदम के माध्यम से बेटी पढाओ बेटी बचाओ को बढ़ावा देना चाहते हैं। यह उस लड़की केलिए एक सपने के सच होने जैसा था जिसकी आकांक्षाएं भविष्य में एक अधिकारी बनने की हैं।

READ  Tiuni uttarakhand | Place to visit in Uttrakhand

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *